चंदौली जिले में बाढ़ से चौतरफा घिरे शेरपुर सरैया के लोगों ने नौका न मिलने से नाराज होकर एसडीएम सकलडीहा के विरूद्ध नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। शनिवार की शाम को जब शेरपुर सरैया बाढ़ से पूरी तरह घिर गया तो वहां के ग्रामीण ग्राम प्रधान पति सुभाष यादव के नेतृत्व में एसडीएम राम सजीवन मौर्य से मुलाकात कर नाैका सहित अन्य सुविधा प्रदान करने का आग्रह किया।

 

हालांकि इसपर सकलडीहा एसडीएम ने कहा कि लेखपाल ने बताया है कि वहां सिर्फ एक आदमी के घर में पानी पहुंचा है और सब लोग ठीक है आप लोग झूठ बोल रहे हैं। एसडीएम की बात से नाराज ग्रामीण वापस चले गए।रविवार की सुबह लेखपाल दिवस कुमार जब गांव के सर्वे के लिए पहुंचे और गांव से 500 मीटर की दूरी पर ही खड़े होकर देख रहे थे। लेखपाल की कार्यप्रणाली से नाराज ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पति सुभाष यादव के नेतृत्व में बाढ़ के पानी में ही खड़े होकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया।

प्रधान पति सुभाष यादव ने बताया कि यहां लोग तीन-चार दिन से भूखे हैं घरों में चूल्हा नहीं जला है।पशु चारे के अभाव में भूखे हैं,प्रशासन द्वारा कोई भी व्यवस्था नहीं की गई है। राहत कैंप यहां से 6 किलोमीटर दूर बनाया गया है,जिससे लोगों को वहां जाने में परेशानी है। तहसील प्रशासन की कार्यप्रणाली बाढ़ पीड़ितों के लिए दुखदाई साबित हो रही है।