अबकी बार केदारनाथ दर्शन के लिए आने वाले यात्रियों को इस बार मुफ्त खाना और चाय भी मिलेगी। तिरुपति बालाजी की तरह दर्शन के लिए लाइन में लगे यात्रियों को चाय भी मिलेगी। बद्री केदार मंदिर समिति ने पहली बार यह सुविधा शुरू की है।

चारधाम यात्रा

केदारनाथ धाम के कपाट नौ मई को श्रद्धालुओं के लिए खुलेंगे। मंदिर समिति ने धाम में मूलभूत सुविधाएं जुटानी शुरू कर दी है। इस बार सर्दियों में भारी बर्फबारी हुई है। धाम में अभी भी भारी बर्फ जमी हुई है। यात्रा सीजन के दौरान ठंड ज्यादा रहने के आसार हैं। इसलिए मंदिर समिति यात्रियों की सुविधा के लिए विशेष इंतजाम कर रही है।

समिति के सीईओ बीडी सिंह ने बताया कि इस बार धाम में 2014 से ज्यादा बर्फबारी हुई है। बर्फबारी से टूट-फूट हुई है। समिति की सभी हट्स टूट चुकी हैं। इसलिए समिति इस बार यात्रियों को ठहरने की सुविधा नहीं दे रही है। लेकिन ठंड से बचने के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। यात्रियों को खाना मुफ्त मिलेगा। दर्शन के लिए लाइन में लगे श्रद्धालुओं को चाय दी जाएगी। रात को एक-एक कंबल भी दिए जाएंगे। इसके लिए समिति 2,000 कम्बलों की व्यवस्था करेगी।

 घर तक जाने का किराया

साधु-संत और ऐसे गरीब यात्री, जिनके पास घर तक जाने के लिए किराया नहीं है, की समिति आर्थिक मदद भी करेगी।

नहीं बढ़ेंगे पूजा के रेट

 पूजाओं के अलग-अलग रेट होते हैं। समिति के सीईओ बीडी सिंह ने बताया कि इस बार पूजाओं के रेट नहीं बढ़ाए जाएंगे।

यात्रा की तैयारी शुरू

उत्तराखंड परिवहन निगम (रोडवेज) ने भी यात्रा की तैयारी शुरू कर दी है। महाप्रबंधक दीपक जैन ने बताया कि ऋषिकेश और हरिद्वार से चारधाम के लिए एक-एक सीधी बस सेवा कपाट खुलते ही शुरू कर दी जाएगी। इसके अलावा 50 बसों की अतिरिक्त व्यवस्था की जाएगी। भीड़ बढ़ने पर निजी बसें कम पड़ जाती हैं, तब इन अतिरिक्त बसों को चारधाम यात्रा पर भेजा जाएगा।

धाम कपाट खुलने की तिथि

गंगोत्री 7 मई

यमुनोत्री 7 मई

बद्रीनाथ 10 मई

केदारनाथ 9 मई