पड़ाव स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति उपवन में श्रद्धांजलि देने आये के.एन.गोविंदाचार्य

प्रख्यात चिंतक व भाजपा नेता के.एन.गोविंदाचार्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय संग्रहालय पहुंचे। उनके चरणों में पुष्पांजली अर्पित किये और उनके जिवन पर आधारित कलाकृतियों को सुक्षमता से निरीक्षण किया। बताया जा रहा है कि वह यह यहां पर लगभग बीस मिनट तक रुके रहे।

के.एन.गोविंदाचार्य ने उनके विचारों को आत्मसात करने की बात कहीं। साथ ही कहा कि आज समाज के हर व्यक्ति को उनके विचारों को जानना जरूरी है। देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था है, जिसमें चुनाव की प्रक्रिया लोकतांत्रिक व्यवस्था के तहत जरूरी है। इस कोरोना संक्रमण में लोगों को शारीरीक दूरी सहित सरकार के दिशानिर्देश का पालन करते हुए समाज के सभी तबके के लोगों को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करना चाहिए।

के.एन.गोविंदाचार्य ने कहा कि किसान बिल किसानों के हित में है। विपक्ष का काम है विरोध करना, इसलिए सरकार के कामों का विरोधी दल विरोध कर रहे हैं।

इस मौके पर डा.अनिल यादव, आनिल गुप्ता, अवधेश चौरसिया, विनय वर्मा, प्रशान्त श्रीवास्तव, संजय पासवान सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।