शौचालय निर्माण में खेल, आरोपी ग्राम प्रधान रामदीन गया जेल

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ के देवरी कला में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) में 10 लाख रुपये से अधिक के गबन के आरोपी देवरी कला के प्रधान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। एसपी के आदेश पर हरकत में आई पुलिस ने 6 महीने बाद प्रधान को सोते हुए घर से गिरफ्तार कर लिया।

बताते चले कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत विकास नौगढ़ के ग्राम पंचायत देवरी कला को 500 से अधिक शौचालयों का निर्माण कराने के ₹12000 की दर से धनराशि का आवंटन किया गया था। जिसे लाभार्थियों के खाते में प्रेषित करने के बजाए उपदेश कंट्रक्शन नामक फर्म के खाते में डाल दिया गया।

तत्कालीन डीएम नवनीत सिंह चहल को शिकायत मिली थी कि धन का आहरण कर लिया गया, लेकिन शौचालयों का निर्माण नहीं कराया गया। जांच हुई तो 200 की संख्या में शौचालय अपूर्ण पाए गए और लगभग 10 लाख रुपये के गबन की पुष्टि हुई।

30 अक्टूबर 2020 को तत्कालीन डीएम ने देवरी कला के प्रधान रामदीन, ग्राम सचिव के पद पर तैनात रहे संजीव सिंह के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए और 3 नवंबर को एडीओ पंचायत नौगढ़ प्रेमचंद् ने एफआईआर कराया था। तब से इस मामले में जांच चल रही थी।

नौगढ़ थाने के प्रभारी निरीक्षक राम उजागीर ने बताया कि आरोपी ग्राम प्रधान रामदीन को देवरी कला उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है । कोविड-19 तथा मेडिकल कराने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि पंचायत राज विभाग से आख्या मिलने में देरी हो रही थी। आख्या मिलने के बाद गिरफ्तारी कर जेल भेजा गया है।

क्या कहते हैं आरोपी प्रधान और सेक्रेटरी….

ग्राम प्रधान रामदीन और पंचायत सचिव संजीव सिंह के संयुक्त हस्ताक्षर से उपदेश कांट्रेक्शन के प्रोपराइटर जनार्दन सिंह चौहान के खाते में 16.80 लाख का भुगतान चेक के माध्यम से किया गया है। इसमें फर्म की ओर से केवल 7.39 लाख रुपए का ही मटेरियल गिराया गया।

ऐसा माना जा रहा है बयान के आधार पर फर्म संचालक को भी गिरफ्तार किया जा सकता है।