चंदौली जिले के पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के रेलवे सर्कुलेटिग एरिया से बाइक उड़ाने वाले शातिर चोर गिरोह के तीन सदस्य शनिवार को रेलवे सुरक्षा तंत्र के हत्थे चढ़ गए। जीआरपी व आरपीएफ ने चेकिग अभियान के दौरान एरिया स्थित एसबीआई बैंक शाखा के पास से पकड़ा। आए दिन घटनाओं को अंजाम देकर चोरों ने रेल पुलिस की नाक में दम कर रखा था। बहरहाल आरोपितों के पास से चोरी की पांच बाइक बरामद हुईं।

जीआरपी प्रभारी आरके सिंह व आरपीएफ पोस्ट प्रभारी बीएन मिश्रा अपनी टीम के साथ जंक्शन के प्लेटफार्मों व सर्कुलेटिग एरिया में चेकिग कर रहे थे। टीम जब एसबीआई बैंक के शाखा के पास पहुंची तो एक पीपल के पेड़ के पास पांच व्यक्ति खड़े नजर आए। संदेह होने पर जैसे ही पुलिस ने पूछताछ शुरू की सभी घबरा गए और खिसकने का प्रयास करने लगे। लेकिन टीम ने मुस्तैदी दिखाते हुए सभी को दबोच लिया। जब उनसे बाइकों के कागजात मांगे गए तो असलियत खुलकर सामने आ गई।

कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपितों ने सच्चाई उगलनी शुरू की। बताया कि उन लोगों का गिरोह रेलवे और आस-पास के क्षेत्रों में सक्रिय है। जंक्शन के आसपास खड़ी बाइकों की चोरी करते हैं। जीआरपी कोतवाल आरके सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों में राकेश कुमार उर्फ सन्नी निवासी लोहरा, विकास कन्नौजिया प्रमहाज धानापुर और संदीप विश्वकर्मा निवासी छिमिया के रहने वाले हैं। सभी का चालान कर दिया गया है।

आरोपितों को गिरफ्तार करने वाली टीम में अभिषेक पांडेय, डीपी यादव, दिलीप सिंह, विजय गोंड, विष्णु दुबे, कन्हैया लाल सिंह, गोविद सिंह आदि शामिल थे।