चाचा बनकर कोतवाल लक्ष्मण पर्वत ने बरामद कर लिया दिलदारनगर से किडनैप किया गया बच्चा

गाजीपुर जिले के दिलदारनगर क्षेत्र में छह दिन पहले अपहृत चार वर्षीय बालक देर रात चंदौली जिले के सैयदराजा इलाके में बरामद कर लिया गया है। पुलिस ने दो अपहर्ताओं को भी गिरफ्तार किया। एक अपहर्ता रामनगर (वाराणसी) का रहने वाला है। पुलिस ने दोनों अपहर्ताओं को दिलदारनगर पुलिस को सौंप दिया गया।

दिलदारनगर क्षेत्र में मिर्च गांव निवासी तौकिर खान का बेटा चार वर्षीय अब्दुल रहमान 16 जनवरी को घर के बाहर खेल रहा था। इस दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में वह गायब हो गया। इसके बाद परिजनों ने थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई।

इस बीच, उनके पास अपहरणकर्ताओं का फोन कॉल आया। उन्होंने उनसे मोबाइल फोन पर फिरौती की मांग की। परिजनों ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के मोबाइल फोन नंबर को ट्रेस करना शुरू किया। रात अपहर्ताओं की लोकेशन सैयदराजा क्षेत्र में मिली।

इस आधार पर सैयदराजा थाना प्रभारी लक्ष्मण पर्वत ने खुद को बालक का चाचा बताते हुए मोबाइल फोन पर अपहरणकर्ताओं से फिरौती देने के लिए स्थान बताने की गुजारिश की।

अपहर्ता पुलिस की बात में आ गए। उन्होंने थाना प्रभारी ने फिरौती की रकम देने के लिए उन्हें जेठमलपुर गांव के पास बुलाया। रात नौ बजे आटोरिक्शा में दो अपहरणकर्ता बालक को लेकर पहुंचे। आटो के रुकते ही पुलिस ने घेरेबंदी कर दोनों अपहर्ताओं को दबोच लिया। पुलिस ने अपहृत बालक को बरामद कर लिया।


अपहरणकर्ताओं में एक रामनगर (वाराणसी) का निवासी बताया जा रहा है। इस संबंध में सैयदराजा थाना प्रभारी ने बताया कि दिलदारनगर (गाजीपुर) पुलिस को अपहृत बालक व दोनों अपहर्ता सौंप दिए गए हैं।