चंदौली जिले के पीडीडीयू रेलवे स्टेशन के आउटर पर डिब्रूगढ़ राजधानी में सवार दुष्कर्म व अपहरण का आरोपित पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया। इसकी जानकारी होते ही जीआरपी में हड़कंप मच गया। दिल्ली पुलिस की शिकायत पर जीआरपी ने मुकदमा दर्ज की। वहीं लापरवाही बरतने पर दिल्ली पुलिस के एक एसआई व दो सिपाहियों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है। जीआरपी टीम गठित कर आरोपित की तलाश में जुटी है।

दिल्ली के कंधावल थाना क्षेत्र में कुछ दिन पहले एक युवती का अपहरण हो गया था। आरोपित आजाद युवती को लेकर बिहार के कटिहार में काफी दिनों तक रहा। पुलिस ने दुष्कर्म के आरोपित को गिरफ्तार कर धारा 376, 363 व पास्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। आरोपित को रिमांड पर लेकर कटिहार छानबीन करने गई थी।

 

छानबीन के बाद दिल्ली पुलिस के एसआई रघु कुमार और सिपाही सुरेश व प्रदीप 12423 अप डिब्रूगढ़ राजधानी के ए 2 में सवार होकर आरोपित आजाद को दिल्ली ले जा रहे थे। ट्रेन पीडीडीयू स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या चार पर मंगलवार की देर रात 12 बजकर 55 मिनट पर पहुंची। ट्रेन निर्धारित ठहराव के बाद दिल्ली के लिए रवाना हुई। ट्रेन के आउटर पर पहुंचते ही दुष्कर्म का आरोपित शौचालय जाने का बहाने ट्रेन से कूद भाग निकला।

दिल्ली पुलिस के जीआरपी थाने को सूचना दी। ट्रेन के इलाहाबाद में पहुंचने पर दिल्ली पुलिस के जवान लौटकर पीडीडीयू स्टेशन पहुंचे। दिल्ली पुलिस की तहरीर पर जीआरपी आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्जकर कार्रवाई में जुट गई। इसके अलावा लापरवाही बरतने के आरोप में दिल्ली पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्जकर अधिकारियों को सूचित कर दिया।

जीआरपी कोतवाल आरके सिंह ने बताया कि आरोपित की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर तलाश की जा रही है।