प्राइवेट फाइनेंस कंपनी के खिलाफ लोगों में आया गुस्सा, हिरासत में मैनेजर

चंदौली जिले के चकिया नगर के वार्ड छह सिविल लाइन पूर्वी स्थित प्राइवेट फाइनेंस कंपनी (कैमूना क्रेडिट को-आपरेटिव सोसाइटी) द्वारा जमाकर्ताओं का जमा धन न देने पर आक्रोशित ग्राहकों ने सोमवार को कंपनी का घेराव कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शाखा प्रबंधक को हिरासत में ले लिया।

नगर में स्थित कैमूना क्रेडिट को-आपरेटिव सोसाइटी वर्षों से एजेंटों के माध्यम से लोगों का पैसा जमा कराने व ब्याज सहित धन वापस करने का काम कर रही है। बैंक के घेराव का नेतृत्व कर रहे व्यापार मंडल अध्यक्ष अरविद मोदनवाल व उपाध्यक्ष शुभम मोदनवाल ने कहा लाकडाउन के दौरान व उसके बाद भी कंपनी जमाकर्ताओं का पैसा देने में आनाकानी कर रही है। इससे ग्राहकों में उहापोह की स्थिति उत्पन्न हो गयी है।

इस कारण जमाकर्ताओं ने कंपनी के कार्यालय का घेराव किया व कंपनी के कारोबार बंद करने की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचित किया।

पुलिस शाखा प्रबंधक विजय कुमार साहनी से पूछताछ कर रही। वहीं शाखा प्रबंधक ने कहा कंपनी सभी जमाकर्ताओं का पैसा वापस देने के लिए प्रतिबद्ध है। कारोबार बंद करने की कोई योजना नहीं है।