चंदौली जिले के अलीनगर थाना क्षेत्र के बिलारीडीह गांव में रविवार को मनोज बिंद का शव पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। तीन दिन पहले मनोज बिंद ने नेशनल हाईवे पर विश्वसुंदरी पुल से गंगा में छलांग लगा ली थी।

बताया जा रहा है कि उसका शव रविवार की सुबह राजघाट पुल के समीप बहते हुए उतराया मिला, जिसके बाद परिजनों ने शव का देर शाम दाह संस्कार कर दिया। शव को देख परिजनों का रोते रोते बुरा हाल रहा।

आपके बता दें कि दो जुलाई की देर रात विश्वसुंदरी पुल रामनगर से गंगा नदी में मनोज बिंद ने छलांग लगा ली थी। परिजनों ने हत्या कर शव फेंके जाने व पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए नेशनल हाईवे पर चक्काजाम कर दिया था। इस दिन शव की काफी खोजबीन हुई, लेकिन तीन दिन तक कहीं अता पता नहीं चल सका।

इसके तीन दिन बाद रविवार की सुबह वाराणसी के आदमपुर थाना क्षेत्र के राजघाट के पास गंगा नदी में शव उतराया मिला। वाराणसी पुलिस ने अलीनगर पुलिस को सूचना दी। परिजनों ने शव की शिनाख्त की। वाराणसी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचा।