चंदौली जिले में बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा भाजपा की जुमलेबाजी काम नहीं आएगी। भाजपाइयों के चेहरे बता रहे कि उनकी हार निश्चित है और महागठबंधन जोरदार तरीके से जीत रहा है।

मायवती ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2014 में अच्छे दिन और तरह-तरह का सब्जबाग दिखाकर सत्ता हासिल करने वाली बीजेपी ने पूंजीपतियों को मालामाल किया। इसके चलते गरीबों, किसानों की हालत दयनीय हो गई। आवारा पशुओं ने किसानों का जीना हराम कर दिया।


मायावती पालीटेक्निक ग्राउंड पर शुक्रवार को गठबंधन के सपा प्रत्याशी डा. संजय चौहान के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रही थीं। कहा केंद्र व राज्य सरकार निजीकरण पर भरोसा कर रही हैं। इसके चलते गरीबों को नौकरियों में आरक्षण का लाभ नहीं मिल रहा। सरकार के पास गरीबों के लिए कोई योजना नहीं है। बिना तैयारी के ही नोटबंदी और जीएसटी लागू कर दी गई। इससे आमजन को दुश्वारियां झेलने पड़ी, वहीं अर्थव्यवस्था को भी झटका लगा। लचर सुरक्षा नीति का परिणाम है कि आए दिन देश के जवान सीमा पर शहीद हो रहे।

उन्होंने जनता से कांग्रेस और बीजेपी को हर हाल में रोकने का आह़्वान किया। बोलीं, विपक्षी चुनाव में साम, दाम, दंड, भेद का इस्तेमाल कर हवा हवाई चुनावी घोषणा पत्र के जरिए जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। इसीलिए बसपा चुनाव में कभी घोषणापत्र जारी नहीं करती है। महागठबंधन की सरकार बनी तो खातों में छह हजार भेजने के बजाय गरीबों को सरकारी व निजी क्षेत्रों में स्थाई नौकरी की व्यवस्था की जाएगी। बीजेपी अपनी हार को लेकर चितित है। अब फूट डाले और राज करो की नीति नहीं चलेगी, गठबंधन लंबा चलेगा। यह सामाजिक न्याय का गठबंधन है।