मुगलसराय पुलिस ने हल्की धाराओं में दर्ज किया मुक़दमा, चोट है गंभीर

चंदौली जिले के मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के बहादुरपुर गांव में फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ विवाद इस कदर बढ़ गया कि दबंगों द्वारा घर में घुसकर युवक और उसके परिवार वालों की पिटाई कर दी गई। पीड़ित के सिर में गंभीर चोट आई है। मुगलसराय कोतवाली पुलिस ने हल्की धाराओं में मामला दर्ज कर बात को रफा-दफा कर दिया है।

बताते चलें कि मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के बहादुरपुर गांव में फेसबुक पर जाति विशेष को लेकर पोस्ट डालने पर बहादुरपुर के युवक दुर्गेश मिश्रा का पड़ोसी गांव सुजाबाद के युवक से विवाद हो गया । दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां भी की। इसके बाद सुजाबाद गांव का युवक आधे दर्जन लोगों के साथ बहादुरपुर गांव पहुंचा और दुर्गेश मिश्रा के घर में घुसकर दुर्गेश मिश्रा की पिटाई कर दी । बीच-बचाव करने पर परिवार के अन्य सदस्यों को भी पीटा गया और तोड़फोड़ कर वहां से चले गए ।

आपको बता दें कि पीड़ित पक्ष जब मुगलसराय कोतवाली पहुंचा तो काफी देर के बाद आरोपी अजीत यादव और एक अज्ञात के खिलाफ हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर पीड़ित को टरका दिया गया। कुछ देर बाद दूसरा पक्ष क्रास एफआइआर कराने थाने पर पहुंचा तो पुलिस ने उसे बैठा लिया और कुछ घंटे बाद वह छूट गया। इसके बाद फिर पीड़ित युवक को धमकी देने लगा।

इस संबंध में पीड़ित दुर्गेश मिश्रा का कहना है कि कुछ दबंग युवक और उसके साथी लगातार हमें धमकी दे रहे हैं। अब गांव में रहना मुश्किल हो गया है। हम लोग घर छोड़कर कहीं और जाने की सोच रहे हैं।

वही इस संबंध में भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष डॉ ए एन पांडे का कहना है कि इस पूरे प्रकरण में मुगलसराय पुलिस की लापरवाही सामने आई है। इस संबंध में ब्राह्मण समाज चंदौली एसपी से मिलेगा और पीड़ित को न्याय नहीं मिला तो आंदोलन किया जाएगा।