गवर्नर के हाथों सम्मानित हुयीं नौगढ़ में काम करने वाली नीतू और डायरेक्टर जगत नारायण

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में कोरोना महामारी में लॉकडाउन के दौरान फंसे प्रवासियों को भोजन व उनके रहने की व्यवस्था करने में जिला प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करने वाली 5 स्वयं सेवी संस्थाओं (एनजीओ) के संचालकों को चंदौली में मंगलवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सम्मानित किया। आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने जिला प्रशासन चंदौली और इन एनजीओ की पीठ थपथपाई। इस दौरान

नक्सल क्षेत्र नौगढ़ में टीबी से ग्रस्त बच्चों और गरीबों की मदद करने वाली प्रमुख संस्था ग्राम्या की कोऑर्डिनेटर नीतू सिंह और मानव सेवा केंद्र के डायरेक्टर जगत नारायण सिंह को भी सम्मानित किया है। सम्मानित होने के बाद (चंदौली समाचार) से बातचीत के दौरान दोनों ने कहा कि संकट में फंसे पड़ोसियों और गरीबों की मदद करना हमारे देश की संस्कृति व संस्कारों में है।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न संकट से निपटने के लिए प्रत्येक नागरिक ने आपस में एकजुट होकर काम किया और एक मिसाल कायम की। डॉक्टरों व पैरामेडिकल कर्मियों ने आठ-आठ घंटे बिन कुछ खाए-पिए ही पीपीई किट पहनकर संक्रमित मरीजों का इलाज किया। यही कारण है कि यूपी में कोरोना की मृत्यु दर सबसे कम है।