कांसेप्ट फोटो

चंदौली जिले के शिक्षा विभाग ने सरकार की मंशा के अनुरूप बिना मान्यता के स्कूलों पर शिकंजा करने की तैयारी शुरू कर दी है। इस के लिए इन पर कार्रवाई करने की पहल तेज हो गई है।

उत्तर प्रदेश शासन के निर्देशानुसार बेसिक शिक्षा विभाग ने धानापुर के विकास खंड में वर्षों से बिना मान्यता के संचालित 28 विद्यालयों को तत्काल बंद करने की नोटिस जारी किया है। आदेश का पालन नहीं करने पर एफआईआर दर्ज कर विभागीय कार्रवाई होगी। बेसिक शिक्षा परिषद का तेवर देख बिना मान्यता के संचालित विद्यालय संचालकों में खलबली मची है।

कांसेप्ट फोटो

शिक्षा विभाग से जारी आदेश के अनुसार बिना मान्यता के संचालित स्वामी विवेकानंद शिक्षण संस्थान, सावित्री शिक्षण संस्थान, एमआर अकेडमी, एसजीएम कान्वेंट स्कूल, सरस्वती ज्ञान मंदिर, अनुपम शिशु ज्ञान मंदिर, आदर्श शिक्षा पब्लिक स्कूल, नेशनल कान्वेंट स्कूल पूरा चेता दूबे, कुसुम कान्वेंट महुंजी, आदर्श विद्यालय हेतमपुर, आर्य पब्लिक स्कूल ढोढिया, भवानी नंदन पब्लिक स्कूल सकरारी, सरस्वती पब्लिक स्कूल अटौली, मां गायत्री शिक्षण संस्थान एवती, रामरती कान्वेंट स्कूल खडान, आदर्श पब्लिक स्कूल सीतापोखरी, कल्पनाथ विद्यालय निदिलपुर, बीके मेमोरियल स्कूल आवाजापुर, विद्या ज्ञान मंदिर जीयनपुर समे 28 विद्यालय शामिल हैं।

धानापुर के खण्ड शिक्षाधिकारी कन्हैया लाल ने बताया कि बिना मान्यता के विद्यालयों को सख्त चेतावनी देते हुए बंद करने का नोटिस जारी की गई। विद्यालय बंद नहीं होने पर प्रबंधक पर कार्रवाई तय है।