चन्दौली जिले के लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान के लिए पार्टियों के नेताओं के जमावड़े के साथ एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का भी अंतिम दौर जारी है। सोमवार को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए सकलडीहा विधानसभा के नरैना गांव में जनसभा को संबोधित करते हुए पानी पी-पीकर भाजपा को कोसा।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर प्रहार करते हुए कहा कि मोदी झूठों का सरदार है। अपने को गरीब और पिछड़ा कहता है, लेकिन 24 घंटे के अंदर सवर्णों का आरक्षण पास कर देता है यही नहीं सुप्रीम कोर्ट के रोक के बावजूद भी यह काम आसानी से कर देता है, जबकि पिछड़े होने की दुहाई देता है,और देश की आबादी में 54 प्रतिशत भागीदारी करने वाले पिछड़ों को 27% से बढ़ाकर 54 परसेंट आरक्षण नहीं दे रहा है। अगर अपनी मां का दूध पिया हो और पिछड़ा हो तो यह आरक्षण बढ़ाकर दिखाएं। मोदी के वाराणसी जीत के लिए भी कहा कि गुजरात से 200 गाड़ियां आई हैं, जिसमें 300 करोड़ रुपए बांटने के लिए लाया गया है।

 

योगी पर निशाना
योगी आदित्यनाथ पर भी प्रहार करते हुए कहा कि जब गोरखपुर मंदिर में घंटा बजाएंगे तब उनको समझ में आएगा । उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री से शिकायत किया कि पात्र गरीब जनता को योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है, तो मुझे रोक दिए और कहे तुम नहीं जानते हो। एक कहावत के माध्यम से मुख्यमंत्री को नसीहत देते हुए कहा कि, क्या वो जाने पीर पराई , जाके पैर न फटे बिवाई।

अनिल राजभर हैं बच्चा
प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री अनिल राजभर को बच्चा बताते हुए कहा कि घोसी में मेरे ऊपर लड़कियों और महिलाओं के बेचने का आरोप लगाने पर जनता भड़क गई थी और वहां से जान बचाकर भागना पड़ा था। सुरक्षाकर्मी नहीं होते तो जनता पिटाई भी करती।

ओमप्रकाश राजभर ने अपने को एक सीट नहीं मिलने पर पूर्वांचल की लगभग सभी सीटों पर भाजपा की हार का तरीका व  मिलने वाले वोटों  को भी गिना दिया। दिया।