ऑक्सिन कंपनी में पैसा जमा कराने वाला नहीं लौटा रहा पैसा, अपहरण का मुकदमा

चंदौली जिले में ऑक्सिन कंपनी में पैसा जमा कराने के नाम पर लोगों का पैसा गटकने वाले मुनाफाखोरी को जब ग्रामीणों ने पैसे की वसूली के लिए दबोचा तो परिजनों ने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ दी। पुलिस दोनों पक्षों को थाने पर लाकर पूछताछ में जुटी ।

मामला बलुआ थाने के हुदहुदी पुर गांव का है जहां के लोगों का पैसा महेशी गांव के महेश वर्मा द्वारा ऑक्सिन कंपनी में 10 महीने में दूना कराने के नाम पर जमा कराया गया था और इसकी वापसी की पूरी जिम्मेदारी भी ली गई थी। लेकिन लगभग 1 वर्ष का समय बीतने वाला है और लोगों को एक पाई भी नहीं मिला तो, पाई पाई बटोरने वाले मेहनतकश लोग अपना आपा खो बैठे और महेश वर्मा के भाई धीरेंद्र वर्मा को हुदहुदी पुर गांव लाकर पैसा देने का दबाव बना बनाने लगे।

इस पर महेश वर्मा के परिजनों द्वारा अपहरण की झूठी घटना की कहानी गढ़ के बलुआ थाने में शिकायत किया। जिस पर थानाध्यक्ष द्वारा हुदहुदीपुर से तीन लोगों को तथा महेश वर्मा के भाई धीरेंद्र वर्मा को थाने में लाकर पूछताछ की जा रही है।

वहीं खबर लिखे जाने तक सीओ व थानाध्यक्ष मामले की तहकीकात में जुटे रहे।