56 अवैध मतपत्र के मामले में आलमपुर की जनता ने DM कार्यालय पर किया प्रदर्शन

चंदौली जिले के सकलडीहा ग्राम सभा के आलमपुर में कुल पड़े मतों से 56 मतपत्र मतपेटी में अधिक मिलने के कारण नाराज ग्रामीणों ने जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर मामले की जांच करने कि मांग की ।

बताते चले कि सकलडीहा में आलमपुर के मामले को लेकर 26 अप्रैल को मतदान किया गया था । जिसमे प्रधान पद के 56 बैलेट पेपर चोरी हो चुका था जिसको हंगामा करने के बाद उस बूथ का मतदान 1 मई को पुनः कराया गया । जिसमे कुल 489 मत पड़े और मतपेटी सील होकर स्ट्रांग रुमम चली आई थी । मतगणना के दिन उस बूथ से कुल 545 मत प्राप्त होने पर लोगों द्वारा हंगामा किया गया लेकिन कोई सुनवाई न होने के बाद आज सुबह से ही इस मामले को लेकर ग्रामीणों द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया पर जिलाधिकारी द्वारा कोई सुनवाई नहीं किये जाने पर मौके पर पहुंचे सपा के पूर्व सांसद राम किशुन यादव द्वारा भी इस मामले को उठाया गया लेकिन इस मामले पर जिलाधिकारी द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया है । नाराज ग्रामीण अब तक जिलाधिकारी कार्यालय पर धरने पर बैठे हुए है ।

इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि जो 26 अप्रैल को मतपत्र चोरी हुए थे वह मतपत्र 1 तारीख के मतदान में 3 और 4 की संख्या में लपेट कर पेटी में पाए गए । वही उन लोगों द्वारा यह बताया गया कि पहले एसडीएम व तहसीलदार का रिटर्निंग अफसर द्वारा पहले कमलावती देवी पत्नी मोहन सिंह को विजयी घोषित कर दिया गया था, लेकिन सत्ता पक्ष के दबाव में आकर गुलजारी देवी को 18 मत से विजयी घोषित कर दिया गया जबकि अवैध पड़े मतों को चार-पांच संख्या में लपेट के डाले गए थे उन्हें अवैध घोषित किया गया था। रिटर्निंग अफसर द्वारा मनमानी करते हुए गुलजारी देवी को प्रमाण पत्र देकर विजयी घोषित किया गया है ।जिस की मांग को लेकर अब भी ग्रामीण व प्रत्याशी डीएम कार्यालय पर अड़े हुए हैं।