चंदौली जिले के इलिया बरहुआ स्थित मृत्युंजय पांडेय महिला व संस्कृत महाविद्यालय परिसर में सोमवार प्रबंधक व शिक्षकों ने 21 पौधों का रोपण किया गया ।

महाविद्यालय के प्रबंधक चंद्रशेखर पांडेय ने कहा कि पर्यावरण के लिए सबसे मुफीद पौधे ही होते हैं।आज लगाए जा रहे पौधे भविष्य में विशाल वृक्ष का रूप बने।इसके लिए सभी को संकल्प लेना होगा। पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रत्येक व्यक्ति को जीवन में कम से कम पांच पौधे लगा कर उन्हें वृक्ष का रूप देना चाहिए। यह बदलते खतरनाक पर्यावरण के लिए सबसे आवश्यक है। प्रदूषण को दूर करने में वृक्षों की अहम भूमिका है।

वृक्षों की हो रही अंधाधुंध कटान के चलते तमाम बीमारियां पनप रही हैं। पौधारोपण कार्यक्रम मे सागौन, आंवला ,अमरुद,सहित अन्य फलदार छायादार पौधे लगाए गए ।

पौधारोपण में राधेश्याम द्विवेदी, राजेंद्र प्रसाद, अरविंद चौबे, रामभजन, बिंदा देवी, उपस्थित थे। वहीं दूसरी तरफ सैदूपुर स्थित किसान इंटर कॉलेज के प्रांगण में पुलिसकर्मियों ने आधा दर्जन छायादार व फलदार पौधों का रोपण किया । तथा सभी उपस्थित जनों से कम से कम अपने हाथों से एक पौध लगाने का आह्वान किया। इस दौरान बृजेश यादव मुनीराम यादव लोकपति सिंह उमाशंकर उपस्थित थे।