चंदौली जिले के  वीरअब्दुल हमीद के साथ सेना में काम करने वाले व संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले सहजौर गांव निवासी चंद्रमा सिंह का मंगलवार को पूर्व ब्लाक प्रमुख बाबूलाल यादव ने अंग वस्त्र, गीता, स्मृति चिन्ह, छाता ,लाइट के साथ माल्यार्पण कर स्वागत किया।

स्वागत के दौरान उन्होंने बताया कि वीर अब्दुल हमीद की टोली पैदल चलती थी हम लोग कम उम्र के थे तो गाड़ी में चलने के लिए कहते थे। सत्र 1955 में सिपाही से नान कमीशन आफ ऑफिसर तक संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे चंद्रमा सिंह जर्मनी स्वीटजरलैंड वाशिंगटन सहित आधा दर्जन विदेशों में गए। अंतिम में आर्मी को ट्रेनिंग के बाद सत्र 1976 में रिटायर्ड हुए।

बावजूद इसके कारगिल युद्ध के समय अनुभव के लिए देहरादून, पूना आदि में बुलाया गया था। इन्हें यूएन, विदेश सेवा मेडल ,नगा हिल्स ,25 वीं स्वतंत्रता दिवस मेडल सहित आठ मेंडलो से सम्मानित किया गया है। अपने उम्र के 90 वर्ष पार कर चुके चंद्रमा सिंह आज भी सेना को ट्रेनिंग के रूप में अनुभव देकर सेना का हौसला बढ़ाने का काम करने का इरादा रखते हैं। स्वागत के दौरान सपा नेता पूर्व ब्लाक प्रमुख बाबूलाल यादव ने बताया कि आज हमारे भारत को ऐसे जवानों व अफसरों की जरूरत है। जिसके दिल में देश भक्ति अभी भी इस उम्र में जगी हो। ऐसे लोगों का हम लोगों को सम्मान करने की जरूरत है।

इस मौके पर ब्लाक प्रमुख महेंद्र पासवान, विधानसभा अध्यक्ष जलालुद्दीन अंसारी ,जिला पंचायत सदस्य सुदामा यादव, प्रेम नाथ तिवारी ,गंगाधर यादव,अवसाफ अहमद गुड्डू ,आनेश कुमार मौर्य आदि मौजूद रहे।।