नदेसर गांव में मार्ग पर बहता रहता है पानी, आवागमन हुआ है दुस्वार

चंदौली जिले के चहनियां विकास खण्ड के उत्तरी छोर पर मारूफपुर न्याय पंचायत अन्तर्गत स्थित ग्राम पंचायत नदेसर आज भी बिकास की रफ्तार में काफी पीछे पड़ा हुआ है। इसी गांव के शहीद चन्दन राय जो कि लगभग दो वर्ष पूर्व पाकिस्तानी गोलाबारी में जम्मू कश्मीर में शहीद हो गये थे। जिसके बाद उक्त गांव में विकास की गति तेज करने के लिए शासन द्वारा समग्र गॉव योजना के तहत चयनित किया गया। किन्तु योजना कब आयी कब चली गयी किसी ग्रामीण को पता ही नहीं चल पाया।

आज भी गांव की समस्याएं जस की तस बनी हुई हैं। गांव के पूर्वी छोर पर आने जाने के लिए बने हुए रास्ते पर नाबदान का पानी बिगत दस वर्षों से बहने से उक्त मार्ग पूरी तरह नष्ट हो गया है। उक्त मार्ग के खराब होने व इस पर नाबदान का पानी बहने से आधे गांव के लोगों को आवागमन में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

गांव के गम्मू मौर्य, बंटी मौर्य, पप्पू मौर्य, सोनू, मनोज, रवि, संजय, गुड्डु, कपिलदेव, शुभम, शिवम, अरूण कन्नौजिया, जय शर्मा, राजू हासमी, इमरान, दिलीप मौर्य, निब्बूलाल, अनुपम, कृष्णा, राजू मौर्य आदि ग्रामीणों ने कहा कि स्वच्छता के लिए शासन द्वारा अनेक कार्यक्रमों चलाए जा रहे हैं जबकि हम ग्रामीणों को इस नाबदान के गन्दे पानी से होकर गुजरने के लिए विवश होना पड़ रहा है।

यहीं नहीं इसी मार्ग पर स्थित काली मन्दिर पर भी लोग पूजा करने जाने से कतराने लगे हैं। ग्रामीणों ने कहा कि यदि उक्त मार्ग का निर्माण शीघ्र नहीं करवाया गया तो हम ग्रामीण विकास खंड मुख्यालय का घेराव करने को विवश होंगे।