चंदौली में जिला पंचायत की अध्यक्ष की कुर्सी के लिए सपा की यह है रणनीति, दो तरह के हैं विकल्प

चंदौली जिले में समाजवादी पार्टी द्वारा पार्टी कार्यालय पर बैठक की गई, जिसमें नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों का माल्यार्पण कर उनका स्वागत किया गया और जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की गयी।

बताते चलें कि समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों के साथ पदाधिकारियों की बैठक में सकलडीहा के वर्तमान विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव व सपा जिला अध्यक्ष सत्यनारायण तथा नियमताबाद के पूर्व ब्लाक प्रमुख बाबूलाल यादव सहित अन्य लोग सम्मिलित हुए।

वहीं पार्टी के टिकट जीते हुए 8 जिला पंचायत सदस्यों की उपस्थिति देखी गयी। जिसमें रमेश यादव, लव वियार, चंद्रशेखर यादव की पत्नी बबीता यादव, राजेश यादव की पत्नी, पिंटू यादव, महेंद्र माही यादव, रविन्द्र यादव, शमीम सिद्दकी तथा 2 बागी उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरे व अपने दम पर चुनाव जीतने वाले जिला पंचायत सदस्य मुलायम सिंह यादव व तेजनारायण यादव भी इस बैठक में सम्मिलित हुए।

यह भी देखा गया कि इस बैठक में तीन ऐसे भी जिला पंचायत सदस्य रहे, जो बैठक में शामिल नहीं हुए। उसके पीछे कुछ निजी कारण बताया जा रहै है। बैठक में न शामिल होने वाले बागी उम्मीदवार के रुप में जीतने वाले अंजनी सिंह, दशरथ सोनकर की पत्नी तथा अजीत यादव डब्बू हैं।

वहीं इस बैठक में यह भी देखने को मिला कि पूर्व सांसद रामकिशुन यादव और पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह W व पूनम सोनकर इस बैठक में नहीं दिखायी दिए, जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि पार्टी कहीं ना कहीं बिखरी हुयी है और जो लोग ऐसी बैठकों से दूर हैं, कहीं उनका एजेंडा कुछ और तो नहीं है।

इस संबंध में मनोज सिंह डब्ल्यू से बातचीत हुई तो उन्होंने बताया कि इस बैठक के बारे में उन्हें किसी तरह की कोई जानकारी ही नहीं दी गयी थी। पर रामकिशुन यादव ने कोई भी टिप्पणी नहीं की और कहा कि पार्टी को जब जहां जैसी जरूरत होगी वह तैयार खड़े मिलेंगे।

इस संबंध में सपा पार्टी के जिला अध्यक्ष सत्यनारायण राजभर ने बताया कि पार्टी अपने बलबूते पर जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव लड़ेगी, जिसके लिए सारे विकल्प खुले हुए हैं। सबसे पहले मौर्या बिरादरी से कोई उम्मीदवार आता है तो उसे वरीयता देकर चुनाव लड़ाया जाएगा और अगर पार्टी के अंदर कोई मजबूत दावेदार उभरता है तो उसका विकल्प अपने पास रखे हुए हैं।

इसे भी पढ़ें… जिला पंचायत की राजनीति की ‘सुपर स्टार’ फिर बनेगा किंग मेकर, सपा-भाजपा में किसका बिगड़ेगा खेल..?

तो क्या साहब सिंह हो सकते हैं जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रत्याशी, जानिए भाजपा का रुख….!

आपको बता दें कि सकलडीहा ब्लॉक के सेक्टर पांच से बसपा के टिकट पर जीतने वाले उम्मीदवार का नाम साहब सिंह है और यह नाम भाजपा व सपा दोनों खेमे में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस तरह की चर्चा से भाजपा व सपा के लोग बसपा के सारे सदस्यों को अपने खेमे में लेकर अपनी मजबूत दावेदारी दिखाना चाह रहे हैं पर साहब सिंह इस मामले पर चुप्पी साधे हुए है

इसे भी पढ़ें..

धानापुर में अजय खलनायक को टक्कर दे सकते हैं विनोद सिंह, सांसद-विधायक पर भी होगी नजर

महेन्द्र सिंह का दावा : दूसरी बार निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख बनेंगी सुनीता सिंह, सारे विरोधी पस्त