स्कूल में कई दिनों से छिपा था सापों का जोड़ा, देखते ही मची हड़कंप

चंदौली जिले में विद्यालय में जब प्रधानाध्यापक शिक्षकों के साथ पहुंची तो कोबरा सांप के जोड़ों को देखकर घबरा गयीं। दहशत के मारे तत्काल विद्यालय से निकल के पूरा स्टाप भागने लगा। सूचना के बाद ग्रामीण भी विद्यालय पर संपेरे को बुलवाकर कोबरा नाग के जोड़े को निकलवाया गया।

कहा जा रहा है कि नाग नागिन की सूचना के बाद भारी भीड़ नाग के जोड़ों को देखने के लिए लग गई और लोग तरह तरह की चर्चा करने लगे।

सकलडीहा क्षेत्र के भोजापुर गांव के प्राथमिक विद्यालय पर उस समय हड़कंप मच गया, जब प्रधानाध्यापक शकुंतला देवी अपने शिक्षकों के साथ विद्यालय खोल कर अंदर घुसी तो सांप के जोड़े फुफकारने लगे। सांप के जोड़ों को देखकर अध्यापकों में हड़कंप मच गया और जान बचाने के लिए कमरों से बाहर निकलकर भागने लगे।
इसके बाद सांप होने की सूचना पर ग्रामीण भी इकठ्ठा हो गए।

इसके बाद तत्काल माटीगांव से सांप निकालने वाले एक सपेरे को बुलाया गया। सपेरा आकर विद्यालय में रह रहे नाग और नागिन के जोड़ों को पकड़ कर बाहर निकाला। नाग के जोड़ों को देखने के लिए विद्यालय के स्टाप एवं ग्रामीणों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई।

इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि हम लोग लॉकडाउन के समय विद्यालय में थे तो उस समय कोई सांप नहीं दिखाई दिया। बारिश के समय विद्यालय खाली होने के कारण सांप का जोड़ा इस विद्यालय में आ गया था जिसे अध्यापकों द्वारा देखकर हल्ला मचाने पर हम लोग जुट गए। सपेरे को बुलाकर सांप के जोड़ों को निकलवाया गया। सपेरे द्वारा सांप को ले जाकर अन्य जगह छोड़े जाने की बात कही गई।

Ads by Google Ads By  Google Download The App Now