चंदौली जिले के अलग-अलग जगहों पर रविवार को आग लगने की एक के बाद एक कई घटनाएं हुई। इस दौरान रिहायशी मड़ई, दुकान व गेहूं की फसल जलने की खबरें भी आईं।

नौगढ़ इलाके के चकरघट्टा थाना क्षेत्र के मझगांवा में सड़क किनारे चार गुमटी में आग लग गई। ग्रामीणों की मदद से फायर ब्रिगेड की टीम जबतक आग पर काबू पाते, तबतक कई लाख रुपये का नुकसान हो गया। मझगावां गांव के समीप शाम को सड़क किनारे अंडा की गुमटी में चूल्हे की चिंगारी से आग लग गई। देखते ही देखते आसपास के चार गुमटिया धू-धूंकर जलने लगी। चौकी इंचार्ज मझगांवा भैरवनाथ यादव व हेड कांस्टेबल विनोद कुमार ग्रामीणों के सहयोग से किसी तरह से आग पर काबू पाया। महेन्द्र प्रसाद की चाय नाश्ता की दुकान, फूलचंद्र की अंडा की दुकान, सुजीत की पान की दुकान, अवधेश की कपड़ा प्रेस की दुकान, काशी की अंडा की दुकान, गुलाब की साइकिल की दुकान जलकर राख हो गई। पीड़ित लोगों ने जिला प्रशासन से आर्थिक मदद की मांग की है।

मुगलसराय के रविनगर स्थित एक कटरे में पंकज यादव के चाय पान की दुकान में गैस रिसाव से गैस सिलेंडर में आग लग गई। आसपास के दुकानदारों ने सिलेंडर को बाहर निकालकर आग पा काबू पाया। तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली।

 

सकलडीहा इलाके के अमिलाई महादेवपुर गांव में दोपहर डेढ़ बजे खर पतवार में आग लगने से शंकर राम के तीन कच्चा मकान में आग लग गया। देखते ही देखते आग पास स्थित गेहूं के फसल में आग लग गई। ग्रामीणों के सहयोग से फायर ब्रिगेड की टीम ने किसी तरह से आग पर काबू पाया। अगलगी में शंकर राम की पूरी गृहस्थी नष्ट हो गई। वहीं विजय यादव का 8 बिस्वा, पौदारी देवी का 10 बिस्वा कमला पासवान व अमरनाथ पासवान का दस-दस बिस्वा लखपति देवी का पांच बिस्वा, विनोद राम और रामवृक्ष का पांच पांच बिस्वा गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई। मौके पर पहुंचे एसडीएम राम सजीवन मौर्य ने पीड़ित परिवार को 25-25 किलो खाद्यान मुहैया कराया।

धीना थाना क्षेत्र में नूरी गांव के सिवान में सुबह अज्ञात कारणों से गेहूं के ठूंठ में आग लग गई। इससे शिवसागर सिंह के गेहूं के खड़ी फसल में आग पकड़ लिया। अगलगी में शिवसागर का चार बीघा गेहूं जलकर राख हो गया।

इलिया थाना क्षेत्र के बेन गांव के सिवान में दोपहर ठूंठ से निकली चिंगारी से खलिहान में रखा महेंद्र व सुरेंद्र पाल का चार बीघा व उमेश मौर्य का साढ़े तीन बीघा का भूंसा जल गया।

चकिया के निर्भयदास वार्ड में नहर किनारे लगे 400 केवीए के ट्रांसफार्मर के पास झाड़ियों में दोपहर आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। सूचना पर पहुंचे विद्युत विभाग के कर्मचारियों ने लोगों के सहयोग से घंटों मशक्कत के बाद किसी तरह आग पर काबू पा लिया।