राजकीय महाविद्यालय नौगढ़ में दहाई का आंकड़ा नहीं हुआ पूरा, नहीं आए प्राचार्य ?

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में राजकीय महाविद्यालय खुला तो जरूर लेकिन विद्यार्थियों का आंकड़ा दहाई पूरा नहीं कर पाया।

कोविड-19 के संक्रमण का खौफ इतना की प्राचार्य भी महाविद्यालय नहीं पहुंचे। 8 माह बाद खुले राजकीय महाविद्यालय में आने वाले छात्र-छात्राओं की संख्या बेहद कम है। महाविद्यालय के खुलने के दूसरे दिन BA प्रथम वर्ष में नामांकित 170 छात्र छात्राओं के सापेक्ष सिर्फ 5 छात्र- छात्राएं उपस्थित मिले। जबकि BA द्वितीय वर्ष की कक्षा में 95 छात्र छात्राओं के सापेक्ष मात्र 9 छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

प्रोफेसर डॉ अनुराग सिंह ने बताया कि महाविद्यालय में आने वाले छात्र-छात्राओं के हाथों को सेनीटाइज किया गया, थर्मल स्क्रीनिंग की गई तभी उन्हें कालेज में प्रवेश दिया गया है।

सभी छात्र -छात्राओं को सोशल मीडिया के माध्यम से कड़ा निर्देश दिया गया है कि बिना मास्क लगाए कॉलेज में प्रवेश नहीं मिलेगा।