चन्दौली जिले में सुशासन की दुहाई देने वाली भाजपा सरकार में खुलेआम सकलडीहा थाने के कार्यखास एवं दलालों की मिलीभगत से ट्रकों को पकड़कर लाखों लाख रुपए की अवैध वसूली की जा रही है ।सबसे बड़ी बात है कि यह मामला थाना अध्यक्ष, सर्किल सीओ और कप्तान तक भी पहुंचता है लेकिन जगलर कार्यखास और थानेदार पर कार्यवाही नहीं हो पाती है । एसपी साहब के मौन रहने से अवैध वसूली को बढ़ावा भी मिल रहा है।

इस संबंध में ट्रक मालिक ने बताया कि सकलडीहा से गुजरने वाली गिट्टी और बालू की ट्रकों को रोककर कार्यवाही करने का धौस जमा कर रात को दर्जनों की संख्या में ट्रकों को पकड़ा जाता है और इन ट्रकों से 20000 से लेकर 50000 रुपये तक की वसूली की जाती है। इस मामले को थाना प्रभारी,सीओ से लेकर एसपी तक के संज्ञान में है क्योंकि इस मामले में ट्रक संचालको ने एसपी से भी बात किया है। सब कुछ जानने के बाद भी कार्यखास के रवैया में कोई परिवर्तन नही हुआ और ना ही अभी तक अधिकारी द्वारा कोई कार्यवाही की गई ।

गाड़ी मालिको की माने तो यह मामला भाजपा नेता के संज्ञान में भी डाला गया और नेता भी पुलिस अधीक्षक से बात कर अवैध कार्य रोकने तथा अवैध वसूली करने वाले सिपाही और थानेदार के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही।
इस कार्य मे सकलडीहा थाने के सिपाहियों के साथ दलाल का भी लगे हुए है। एक तरफ सकलडीहा पुलिस गाड़ियों को पकड़ती है तो दूसरी तरफ दलाल सेटिंग कर गाड़ियों को छुड़ाते हैं,हालांकि इस संबंध में स्थानीय सांसद व केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडे से वार्ता करने की कोशिश की गई लेकिन वार्ता नहीं हो पाई।

जिससे यह प्रतीत हो रहा है कि कहीं ना कहीं इस खेल का मास्टरमाइंड जिला प्रशासन पर भारी पड़ रहा है जिससे जिला प्रशासन फेल दिख रही है

नोट यह सारी बातें ट्रक संचालक व ट्रक ड्राइवरों द्वारा लगाए गए आरोप पर ही आधारित है।