दुनिया भर में 19 अप्रैल को World Liver Day मनाते हैं। इस दिवस का मकसद लिवर से जुड़ी बीमारियों के बारे में जागरूकता फैलाना होता है. World Well being Organisation ने इस संबंध में एक स्टडी की थी, जिसके मुताबिक लिवर की बीमारी भारत में मौत की 10वीं सबसे बड़ी वजह है। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं ऐसे तरीका जिससे आप फिर से अपने लिवर को पहले जैसा नया बना सकते हैं।

लिवर हमारे पाचनतंत्र के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक है। यह पेट के दाहिनी ओर नीचे की तरफ होता है। यह शरीर की कई क्रियाओं को नियंत्रित करता है। साथ ही शरीर से विषैले पदार्थ निकालने का काम भी इसी का होता है। लिवर की खराबी से इंसान को हेपेटाइटिस, फैटी लिवर, लिवर सिरोसिस, एल्कोहॉलिक लिवर डिसीज और लिवर कैंसर जैसी बीमारियां हो सकती हैं।

ऐसे में अक्सर फिटनेस एक्सपर्ट एक जूस की बात बताते हैं, जो लिवर से विषैले पदार्थों को आसानी से बाहर कर सकता है. अगर आप भी अपने लिवर को चुस्त-दुरुस्त रखना चाहें तो इसका सेवन कर सकते हैं…..

लौकी का जूस
इसे बनाने के लिए आपको जरूरत होगी; लौकी, हल्दी, धनिया, नींबू, काले नमक और गिलोय की. लिवर की गंदगी को बाहर निकालने के लिए ये सारे ही खाद्य पदार्थ बहुत कारगर होते हैं. इनसे न केवल लिवर की गंदगी बाहर निकल जाती है बल्कि ये सारे ही शरीर के लिए इम्यूनिटी बूस्टर का काम भी करते हैं.

ऐसे करें तैयार-
सबसे पहले लौकी को छील लें. इसके बाद लौकी और धनिया को ग्राइंड करके 1 गिलास जूस निकालें. फिर इसमें 1 चम्मच हल्दी, 1 चम्मच काला नमक, 1 चम्मच नींबू का रस और 30 मिली गिलोय का रस मिलाएं. इसे अच्छे से मिला लें. इस तरह से तैयार है आपका जूस जो आपको लिवर से विषैले टॉक्सिन निकालने में मदद करेगा. बस रोज खाली पेट इसका सेवन करें. ज्यादा बेहतर होगा अगर आप सवेरे इस ड्रिंक को पिएं. वैसे इसे भोजन के तुरंत बाद भी पिया जा सकता है. रोज इस ड्रिंक का सेवन करने से न सिर्फ लिवर से टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं बल्कि इम्यून सिस्टम भी ठीक रहता है.

गाजर-आंवले का जूस
गाजर का जूस बनाने के लिए जरूरत होगी, 150 मिली गाजर के जूस की, 20 मिली आंवले के जूस की और सेंधा नमक की. तीनों को मिला लें और रोजाना नाश्ते के साथ इस जूस का सेवन करें. यह लिवर को डिटॉक्स करने के साथ लिवर की सूजन को भी 1 हफ्ते में कम कर देता है. इसके अलावा यह जूस आपकी लिवर की समस्याओं को भी दूर करता है.

पालक और चुकंदर का जूस
इसे बनाने को पालक के पत्तों का 100 मिली जूस निकालें. इसमें 30 मिली चुकंदर का जूस और चुटकी भर काली मिर्च मिलाएं. खाने के बाद रोजाना इसका सेवन करें. इसके सेवन से लीवर तो ठीक होता है, साथ ही खून की कमी भी पूरी हो जाती है. अगर आप इस जूस को बच्चों को देना है तो इसमें गाजर और अनार का जूस भी डाल सकते हैं.