संदिग्ध परिस्थितियों में मिली तुलसा यादव की लाश, हत्या की आशंका

चंदौली जिले के चकिया कोतवाली अंतर्गत भटवारा खुर्द गांव में तुलसा यादव 32 वर्ष की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। तुलसा का शव मकान से बाहर गौशाला में सोमवार की भोर में खून से लथपथ पाया गया। तथा उसके चेहरे पर कई जगह चोट के निशान थे।

आसपास के लोगों ने तुलसा को गौशाला में लहूलुहान हालत में पड़ा देखकर घरवालों को सूचना दी। वही 108 नंबर पर कॉल कर इलाज के लिए चिकित्सालय ले जाने की बात कही, मगर काफी देर प्रतीक्षा के बाद भी एंबुलेंस के न आने पर निजी साधन से लोग तुलसा को लेकर जिला संयुक्त चिकित्सालय चकिया पहुंचे जहां डॉक्टर ने विवाहिता की घंटों पूर्व मौत हो जाने की बात कही। वहीं पुलिस शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन में जुट गई। उधर तुलसा के मौत की खबर मायके वालों को मिलते ही लोग भारी संख्या में चकिया जिला संयुक्त चिकित्सालय पहुंच गए, वही मायके वालों ने तुलसा के पति मुकेश यादव सहित परिवार वालों पर हत्या का आरोप लगाया है।


बता दें की भटवारा खुर्द गांव निवासी स्वर्गीय भगवानदास यादव के पुत्र मुकेश यादव का विवाह 11 वर्ष पूर्व मिर्जापुर जिला के जमालपुर थाना अंतर्गत सहिजनी गांव निवासी भगवंतु यादव की पुत्री तुलसा यादव के साथ हुआ था। जिससे मृतिका तुलसा यादव को एक 10 वर्ष का पुत्र भी है। पति मुकेश यादव सहित परिजनों का कहना है कि तुलसा मकान के बाहर गौशाला में भोर के वक्त पशुओं को चारा डालने गई थी इसी दौरान किसी तरह उसके साथ दुर्घटना हो गई होगी।

जबकि मायके पक्ष के मृतिका के पिता भगवंतु यादव सहित उनके घरवालों का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने शरीर के ऊपर वार कर तुलसा की हत्या कर दी है। इस मामले में इंचार्ज कोतवाल राजकुमार शुक्ला ने बताया कि मायके वालों की तरफ से पड़ी तहरीर के आधार पर ससुरालियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है। तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।