गोताखोरों ने बरामद की विकास झा और शिवम सैनी की लाश, लतीफशाह में हो गए थे लापता

चंदौली जिले के चकिया क्षेत्र में स्थित लतीफशाह में पिकनिक मनाने पहुंचे बीएचयू के 4 डॉक्टर डूब गए। इसमें दो को बचा लिया गया, जबकि दो की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से दोनों का शव बरामद किया।

बताते चले कि बीएचयू के सुश्रुत हॉस्टल के मेडिकल छात्र विकास झा (25) निवासी कोलकाता, शिवम सैनी (26) निवासी मथुरा, हर्षवर्धन (25) निवासी नैनीताल और रोशन कुमार (27) निवासी जमशेदपुर चार पहिया वाहन से चकिया कोतवाली क्षेत्र के लतीफशाह में सैर-सपाटे को पहुंचे थे।

मेडिकल डॉक्टरों की टीम ने वहां पहुंचने पर कर्मनाशा नदी के पानी में नहाना आरंभ कर दिया। इसी दौरान धीरे-धीरे वे गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। शोर मचाने पर पहुंचे लोगों ने हर्षवर्धन और रोशन कुमार को बचा लिया, जबकि विकास झा और शिवम सैनी गहरे पानी में डूब गए।

मामले की जानकारी होते ही उप जिलाधिकारी अजय मिश्रा, एडिशनल एसपी अनिल कुमार और कोतवाल नागेंद्र प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटनास्थल का जायजा लेकर डूबे छात्रों को निकालने की कवायद आरंभ कर दी। गोताखोरों की मदद से दोनों शवों को बरामद कर लिया गया।

घटना में बाल बाल बचे दोनों डाक्टर सदमे में हैं। दोनों का रो-रोकर बुरा हाल है। इस बाबत एडिशनल एसपी (नक्सल) अनिल कुमार ने बताया कि बीएचयू एमएस के चार डॉक्टर लतीफ शाह बियर में पिकनिक मनाने पहुंचे थे। इसी दौरान यह हादसा हो गया।