आकाशीय बिजली से दो की मौत, दो घायलों का चल रहा इलाज

कंसेप्ट फोटो

 

चंदौली जिले में मंगलवार को बारिश के दौरान आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सदर कोतवाली के हिनौता गांव निवासी अर्जुन प्रसाद (15) व धीना थाना के सिसौड़ा गांव निवासी नीतीश कुमार (12) की मौत हो गई। जबकि महिला व एक किशोर झुलस गए हैं। घटना के बाद सभी के घरों में कोहराम मच गया है। पोस्टमार्टम हाउस पर सदर एसडीएम विजयनारायण सिंह ने शोक संतृप्त परिजनों को ढांढस बंधाया। साथ ही आपदा राहत कोष से आर्थिक सहायता दिलाने का भरोसा दिलाया। आकाशीय बिजली की वजह से विद्युत, टेलीफोन व ब्राडबैंड सेवा बाधित रही। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

हिनौता निवासी लालबहादुर का पुत्र अर्जुन प्रसाद और रामकृत का पुत्र गुलशन कुमार घर के बाहर थे। इसी दौरान अचानक बारिश शुरू हो गई। इसके चलते दोनों वज्रपात की चपेट में आ गए। अर्जुन की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि गुलशन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसका उपचार जारी है। उधर धीना थाना के सिसौड़ा गांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सिवान में बकरी चरा रहे नीतीश कुमार की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि खेत में घास काट रही चुनचुन देवी (40) गंभीर रूप से झुलस गईं। इसके अलावा बरहनी क्षेत्र के तेल्हरा गांव निवासी टुनटुन सिंह के घर की दीवार में आकाशीय बिजली टकराई। कंजेहरा गांव निवासी बलिस्टर यादव के घर का बारजा टूटकर गिर पड़ा। उनके घर में लगा टीवी, इनवर्टर आदि खराब हो गए।

इतना ही नहीं आकाशीय बिजली से बिजली आपूर्ति करीब तीन घंटे के लिए बाधित हो गई थी। एहतियात के तौर पर पीडीडीयू नगर स्थित बीएसएनएल के मुख्य एक्सचेंज से ब्राडबैंड सेवा को ठप कर दिया गया था। बारिश व बिजली गरजने का सिलसिला थमने के बाद दोबारा चालू किया गया।

एसडीओ गोविद गुप्ता ने बताया कि एहतियात के तौर पर ब्राडबैंड सेवा ठप की गई थी। बारिश थमने के बाद दोबारा शुरू कर दिया गया।

Ads by Google Ads By  Google Download The App Now