चंदौली जिले के धीना थाना क्षेत्र के महुजी गांव में रविवार को दोपहर अचानक आग लगने से गांव के गरीब बस्ती के लगभग दो दर्जन रिहायसी मड़हे जलकर खाक हो गए । आग का तांडव इतना तेज था कि किसी को मौका नहीं दिया, जिससे तीन भैंसे जलकर खाक हो गईं।

अपने जानवरों को बचाने में कपिल देव 65 वर्ष व अरविन्द 28 वर्ष भी गंभीर रूप से झुलस गए। वहीं ग्रामीणों ने पुलिस को तत्काल सूचना दिया लेकिन लगभग 1 घंटे बीतने के बाद भी फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर नहीं पहुंच पाई।

ग्रामीणों ने अपने संसाधनों से किसी तरह आग पर काबू पाया। तब तक गरीबों की जिंदगी उजड़ चुकी थी और घर में रखे अन्न के एक-एक दाने आग के लौ में जल चुके थे, जहां जन धन की हानि हुई है। वही अब ग्रामीणों को आगे की जिंदगी के लिए भोजन के लाले भी पड़ गए है। सूचना के बाद पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचकर अपनी कार्यवाही में जुटी है।

आग में झुलसे लोगों का हाल पूछते पूर्व विधायक

 

कमालपुर क्षेत्र के महूजी गांव में  बुरी तरह झुलसे जिसे जिला चिकित्सालय भेजा गया, जहाँ कपिदेव 65 वर्ष की हालत नाजुक होने के कारण वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया, जबकि पुत्र अरबिंद अभी चन्दौली जिला चिकित्सालय में भर्ती हैं।