वासंतिक नवरात्र के पहले दिन शनिवार से घरों व मंदिरों में ‘या देवी सर्वभूतेषु शक्ति-रूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम: के मंत्र गूंज रहे हैं। बाजारों में पूजन सामग्री, माता रानी की चुनरी एवं ध्वजों की सैकड़ों दुकानें सज गई। शुक्रवार को लोग पूजा सामग्रियों की खरीदारी और कलश स्थापना की तैयारी करने वाले लोगों ने आज सबेरे से पूजा शुरू कर दी। स्थानीय देवी मंदिरों की साफ सफाई की गई और रंग रोगन किया जा रहा है।

आपको बता दें कि देवी उपासना का महापर्व वासंतिक नवरात्र छह अप्रैल से शुरू हो रहा है। इसकी तैयारी में उपासक जुट गए हैं। नवरात्र को लेकर नगर के जीटी रोड स्थित प्राचीन काली मंदिर, गल्लामंडी स्थित दुर्गा मंदिर, नईसट्टी स्थित दुर्गा मंदिर सहित सभी मंदिरों को सजाया जा रहा है।

 

किसी मंदिर को विद्युतलरियों से तो मंदिर को विभिन्न तरह के फूलों से सजाया जा रहा है। प्रकाश की चकाचौंध व्यवस्था से मंदिर जगमगाने लगे हैं। पूजा को लेकर पूजा सामग्री खरीदने के लिए लोगों की भीड़ बाजारों मे उमड़ने लगी हैं। इसे लेकर बाजार में चहल-पहल बढ़ गई है।