सकलडीहा ग्राम पंचायत में वोटर लिस्ट में नहीं काटे गए बाहरियों के नाम, कई बार की गयी है शिकायत

चंदौली जिले में पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर मतदाता सूची में नाम बढवाने व कटवाने की माथापच्ची जोरों पर चल रही है।

सकलडीहा ग्राम पंचायत में बाहरी लोगों के नामों को कटवाने के लिए जहां बीएलओ द्वारा विलोपन फार्म के माध्यम से निर्वाचन कार्यालय को सूचित कर दिया है वहीं अभी भी नाम नही कटने से ग्रामीणों में आक्रोश है।

सकलडीहा ग्राम सभा के पूर्व प्रधान प्रेम शंकर रस्तोगी ने भी उच्चाधिकारियों तक मृतकों एवं डबल नाम तथा बाहरी लोगों के जुड़े हुए नामों को कटवाने के लिए कई बार प्रयास किया, लेकिन मतदाता सूची का प्रथम प्रकाशन हो गया है, उसके बाद भी नाम काटने की कोई कार्यवाही नहीं हुई।

इस संबंध में पूर्व प्रधान प्रेमशंकर रस्तोगी ने बताया कि तहसील परिसर में स्थित निर्वाचन कार्यालय पूरी तरह से उदासीन है। ड्यूटीरत कर्मचारियों की मनमानी के चलते बाहरी लोगों के नामों को नहीं काटा गया और ना ही मृतकों का भी नाम सूची से हटाया गया।

सबसे बड़ी बात है कि जनसंख्या के अनुपात में वोटर लिस्ट में नाम कम होना चाहिए लेकिन सकलडीहा कस्बा के वोटर लिस्ट में 3% अधिक नाम हो गए हैं। मृतकों और बाहरियों का नहीं हटाया जाएगा तो ग्राम सभा के नियमित मतदाताओं के साथ अनदेखी होगी।

बीएलओ द्वारा कई बार मृतकों और बाहरियों के नाम को सूची से हटाने के लिए फार्म भर कर दिया, उसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई। निर्वाचन विभाग पूरी तरह से निष्क्रिय है।