शराब की दुकान हटाने के लिए महिलाओ ने लाठी डंडे के साथ किया प्रदर्शन

चंदौली जिले के चहनियां बलुआं थाना क्षेत्र के बैराठ गांव में त्रिमोहानी पर शराब की दुकान संचालित होने से नाराज़ सैकड़ों महिलाओं व ग्रामीणों ने दुकान हटाने को लेकर लाठी डण्डे के साथ जोरदार प्रशाशन के खिलाफ हंगामा, नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन किया। सूचना पर पहुचे बलुआ इंस्पेक्टर ने समझाबुझाकर शांत किया ।


महिलाओ का कहना है कि उक्त दुकान का लाइसेंस रामगढ़ का था । रामगढ़ के लोगों के विरोध के चलते उक्त दुकान को वहां से हटाकर कर बैराठ गांव के पास खोल दिया गया है जो कि मात्र बीस मीटर की दूरी पर बाबा कीनाराम जन्मस्थली , तपोस्थली मठ है , बाबा कीनाराम इंटर कालेज के साथ महाविद्यालय ,प्राथमिक विद्यालय काफी नजदीक है । जिससे श्रद्धालुओ के आस्था के साथ आए दिन कुठाराघात होता है तथा स्कूल ,कालेज के छात्र छात्रओं को शराब की दुकान के सामने से आने जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है । शराब पीने वाले किसी भी दर्शनार्थि, महिला, पुरुष , छात्र-छात्राओ के साथ अभद्र व्यवहार करेंगे ।

उक्त दुकान को अत्यंत कही और ले जाकर खोलें । अगर शराब की दुकान को नहीं हटाया गया तो सड़क जाम कर प्रदर्शन किया जायेगा। हंगामा की सुचना पर पहुंचे बलुआ इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह ने महिलाओं व ग्रामीणों को कहा कि जिलाअधिकारी व उपजिलाधिकारी से दुकान हटवाने के लिए परमिशन लेनी पड़ती है । आप सभी लोग उनसे परमिशन लेकर आए उसके बाद ही दुकान को हटाने के लिए कार्रवाई किया जायेगा । इसी आश्वासन पर हम महिलाएं व ग्रामीण शांत हुए।


प्रर्दशन करने वाले में महाराजी देवी, विमला, सुनिता, गीता, निर्मला,ज्योती, चमेली,माया,शारदा , मुन्नी,राजकुरी, शीला,प्रेमशीला सहित दर्जनों महिलाये व ग्रामीण मौजूद थे।